Breaking News
Home / देश / 2050 तक भारत में होंगे दुनिया के सर्वाधिक मुसलमान!

2050 तक भारत में होंगे दुनिया के सर्वाधिक मुसलमान!

नई दिल्ली: 2050 तक इस्लाम दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाला धर्म होगा। अमेरिकी थिंक टैंक
प्यू रिसर्च सेंटर इस बात का खुलासा किया है।
वर्तमान में दुनिया में सर्वाधिक आबादी ईसाइयों की
है। इस्लाम अभी दूसरा सबसे बड़ा धर्म है लेकिन
उसकी आबादी में सबसे ज्यादा तेजी से वृद्धि हो रही
है। प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार 2010 तक दुनिया में
मुसलमानों की आबादी करीब 1.6 अरब थी जो दुनिया
की कुल आबादी का 23 प्रतिशत है।
प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार अगर इस्लाम इसी रफ्तार
से बढ़ता रहा हो तो इक्कीसवीं सदी के अंत तक वो
ईसाई धर्म को पीछे छोड़ देगा। रिसर्च सेंटर के
अनुसार साल 2050 तक भारत दुनिया की सबसे बड़ी
मुस्लिम आबादी (करीब 30 करोड़) वाला देश बन
जाएगा। अभी भारत इस मामले में इंडोनेशिया के बाद
दूसरे नंबर पर है।

दूसरे देशों में जाने वाले प्रवासी मुसलमानों की वजह से
बढ़ेगी आबादी-

प्यू रिसर्च सेंटर के अनुमान के अनुसार साल 2050
तक यूरोप की मुस्लिम आबादी में करीब 10 प्रतिशत
बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं अमेरिका में 2050 तक
मुस्लिम आबादी कुल जनसंख्या का 2.1 प्रतिशत हो
सकती है। अभी अमेरिका में मुस्लिम आबादी करीब एक
प्रतिशत है। मुस्लिम देशों से दूसरे देशों में जाने वाले
प्रवासियों की बढ़ती संख्या की वजह से भी अन्य
देशों में मुस्लिम आबादी बढ़ेगी।

आबादी बढऩे के ये दो हैं प्रमुख कारण-

प्यू रिसर्च सेंटर की रिपोर्ट के अनुसार मुसलमानों की
आबादी बढऩे के पीछे दो प्रमुख कारण हैं। पहला,
मुसलमानों की जनसंख्या वृद्धि दर बाकी धर्मों से
ज्यादा है। वैश्विक स्तर पर मुस्लिम महिला के
औसतन 3.1 बच्चे होते हैं जबकि बाकी धर्मों का ये
औसत 2.3 है।

रिपोर्ट के मुताबिक दूसरा कारण मुस्लिम जनसंख्या में
वृद्धि, उनके माइग्रेशन और आईएस जैसे आतंकी
संगठनों की हिंसक कार्रवाई ने कई देशों में इस धार्मिक
समूह को डिबेट के बीच खड़ा कर दिया है। रिपोर्ट ने
इस ओर भी इशारा किया है कि कई जगहों पर मुस्लिमों
से जुड़े कई तथ्यों की जानकारी ही नहीं है।
छोटी मुस्लिम आबादी के साथ रहने वाले अमेरिकियों ने
भी माना है कि वे या तो इस्लाम के बारे में नहीं जानते
या कम जानते हैं युवा आबादी होने का मतलब है
मुसलमानों की बड़ी आबादी या तो बच्चे पैदा कर रहे है
या भविष्य में करेगी। सबसे ज्यादा प्रजनन दर और
सबसे ज्यादा युवा आबादी के कारण मुसलमानों की
आबादी तेजी से बढ़ सकती है।

[नोट:-यदि आपके पास भी है कोई खबर तो
आप हमें भेजिए। ईमेल-
[email protected]
या हमें व्हाट्सअप कीजिये-8817657333]

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को
बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या
अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई
कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो
वह [email protected]
पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य
के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके
या हटाया जा सके।

About WFWJ

Check Also

आजाद हिंदुस्तान का मन्त्र-करेंगे और करके रहेंगे-पीएम ।

देश की आज़ादी के लिए वर्ष 1942 में छेड़े गए ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ के 75 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *