Breaking News
Home / देश / मध्य प्रदेश / दमोह / निताइ ग्रुप ने किया ब्लू व्हेल गेम हेतु कार्यशाला का आयोजन।

निताइ ग्रुप ने किया ब्लू व्हेल गेम हेतु कार्यशाला का आयोजन।

दमोह: निताइ ग्रुप ने ग्लोबल निताइ पब्लिक स्कूल में ब्लू व्हेल गेम हेतु एक कार्यशाला का आयोजन किया ज्ञात हो विगत दिनों इस खतरनाक गेम  से हुईं घटनाओ ने समाज को झंझोर के रख दिया है ग्रुप के अध्यक्ष श्री अमोल पटेल ने बताया कि इस प्रकार के सभी खेलो से सभी लोगो को दूर रहना चाहिए ये खेल हमारे जीवन के लिए अभिशाप साबित हो रहे है उन्होंने बच्चों को व मौजूद अन्य जानो को इस खेल से दूर रहने को कहा । ग्रुप के सी.ई.ओ  श्री उमर खैय्याम ने बताया इस खतरनाक खेल के माध्यम से बच्चों के दिमांग को वश में करके उनसे आत्महत्या कराने की घटनाएं देश मे हो रही है जिसकीे निन्दा करते हुए  उन्होंने शिक्षको एवं पालको  को बच्चों की दिनचर्या पर विशेष नज़र रखने को कहा एवं खेल के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देते हुए बताया कि यह इंटरनेट पर खेला जाने वाला गेम है, जो दुनियाभर के कई देशों में उपलब्ध है. इस गेम को खेलने वाले शख्स के सामने कई तरह के चैलेंज रखे जाते हैं. ये सभी चैलेंज 50 दिन के अंदर पूरे करने होते हैं. इसमें अंतिम चैलेंज के रूप में आत्महत्या को रखा गया है. द ब्लू व्हेल गेम को फिलिप बुडेकिन ने साल 2013 में बनाया था. रूस में आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं के बीच उसे गिरफ्तार किया गया और बाद में फिलिप को जेल की सजा हो गई. इंटरनेट पर खेले जाने वाले इस गेम में 50 दिन तक रोज एक चैलेंज बताया जाता है.  हर चैलेंज को पूरा करने पर हाथ पर एक कट करने के लिए कहा जाता है.चैलेंज पूरे होते-होते आखिर तक हाथ पर व्हेल की आकृति उभरती है. चैलेंज के तहत हाथ पर ब्लेड से एफ-57 उकेरकर फोटो भेजने को कहा जाता है.  हॉरर वीडियो या फिल्म देखने के लिए चैलेंज है. हाथ की 3 नसों को काटकर उसकी फोटो क्यूरेटर को भेजना भी एक चैलेंज है. ऊंची से ऊंची छत पर जाने को इस गेम में कहा जाता है. व्हेल बनने के लिए तैयार होने पर अपने पैर में ‘यस’ उकेरना होता है.तैयार होने पर खुद को चाकू से कई बार काटकर सजा देना भी चैलेंज का हिस्सा है. सभी चैलेंज पूरे करने वाले को खुदकुशी करनी पड़ती है ।
ऐसे खेल खेलना कोई बहादुरी नही सबसे बड़ी बेबकूफी है अपने प्रिय जनो का ध्यान रखते हुए ऐसे खेलो से दूर रहना ही बचने का एक मात्र उपाय है ।
इस कार्यशाला में ग्रुप के श्री रत्नेश्वर ठाकुर ,श्री रामबाबू मिश्रा ,श्री प्रहलाद पटेल ,श्री राजेश पटेल, श्री सुनील पटेल ,श्री शैलेन्द्र रॉय ,श्री राजीब श्रीवास्तव, श्री प्रेमनारायण पटेल ,मातृ शक्ति श्रीमति कल्पना पटेल ,श्रीमती उर्मिला मिश्रा ,कु विनीता यादव  आदि की उपस्थिति रही ।
[रिपोर्ट- आशीष तंतुबाय कबीर@दमोह]

About WFWJ

Check Also

चीतों के नामकरण को लेकर PM मोदी ने लोगों से मांगे सुझाव- जानें मन की बात में क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर मन की बात कार्यक्रम के जरिए लोगों तक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *