Wednesday , September 23 2020
Home / दिल्ली / दिल्ली के सीएम केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने पर अन्ना हजारे ने कहा

दिल्ली के सीएम केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने पर अन्ना हजारे ने कहा

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार से हटाए जाने के एक दिन बाद रविवार को आम आदमी पार्टी के विधायक कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए. मिश्रा ने राजघाट पर संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने जैन को केजरीवाल के आधिकारिक आवास पर उन्हें 2 करोड़ रुपए सौंपते हुए देखा. मिश्रा ने कहा, अरविंद केजरीवाल में पूरा विश्वास होने की वजह से मैं चुप था. परसों मैंने देखा कि जैन केजरीवाल को दो करोड़ रुपए नकद दे रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि राजनीति में कुछ चीजें होती हैं. केजरीवाल को जैन की ओर से इतनी बड़ी राशि देते हुए देखने के बाद मुझे सामने आना पड़ा. मैंने उप राज्यपाल अनिल बैजल को पूरा ब्यौरा सौंप दिया है. उन्होंने कहा, अगर जरूरी हुआ तो मैं सीबीआई और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के सामने बयान देने के लिए तैयार हूं. उसके बाद भाजपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, अन्ना हजारे समेत कई लोगों ने इस मामले में प्रतिक्रिया दी.

अन्ना हजारे ने कहा…
सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने अपने गांव रालेगण सिद्धि में कहा कि उन्हें यह देखकर दुख हो रहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक अभियान में उनके साथी रहे. अरविंद केजरीवाल पर धन लेने के आरोप लगे हैं. हजारे ने कहा, दिल्ली सरकार में जो चल रहा है वह मेरे लिए दुखद है. यह देखकर दुख हो रहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक अभियान में मेरे पूर्व सहयोगी रहे केजरीवाल पर धन लेने के आरोप लग रहे हैं. उन्होंने कहा, मैं पिछले 40 वर्षों से भ्रष्टाचार निरोधक अभियान का हिस्सा रहा हूं. केजरीवाल बाद में मेरे साथ आए और राज्य चुनावों में हमें सफलता मिली. वास्तव में दिल्ली चुनाव में जीत दिल्ली में गंभीर भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रचार के कारण हुई. लेकिन आज उन्हीं पर धन लेने के आरोप लग रहे हैं जो मेरे लिए काफी दुखदायक है.

योगेंद्र यादव ने कहा…
केजरीवाल के पूर्व सहयोगी और स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव ने कहा, ‘मैं केजरीवाल के अंदर सत्ता की भूख, घमंड और तानाशाही होने की बात मान सकता हूं लेकिन घूस लेने के आरोपों के लिए ठोस सबूत होने चाहिए, इतने गंभीर आरोप इस तरह नहीं लगाए जाने चाहिए.

कुमार विश्वास ने कहा…
आप के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास ने आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन में उतरते हुए कहा कि वह उन्हें 12 साल से जानते हैं और उनके दुश्मन भी उनके रिश्वत लेने की कल्पना नहीं कर सकते. विश्वास ने कहा, हम असहमत हो सकते हैं, झगड़ सकते हैं या एक दूसरे से निराश हो सकते हैं. मैं अरविंद को 12 साल से जानता हूं और मैं कह सकता हूं कि मैं उनके रिश्वत लेने या भ्रष्ट होने की कल्पना नहीं कर सकता. यहां तक कि उनके दुश्मन भी यह कल्पना नहीं कर सकते. उन्होंने कहा, केजरीवाल ने यह 100 बार कहा है कि यदि वह भ्रष्ट हैं तो उन्हें हटा दिया जाना चाहिए. मैंने सत्येंद्र जैन से बात की और उनसे पीएसी पर अपना रूख स्पष्ट करने को कहा, क्या उन्हें फंसाया जा रहा या कोई गलती हुई है, हम जांच के लिए तैयार हैं. चाहे यह ईडी की हो या सीबीआई जांच हो.  विश्वास ने कहा, मैं आरोपों को लेकर दुखी हूं. चाहे क्यों ना यह पार्टी की अंदरूनी बातचीत, टिकट बंटवारे में मतभेद, राजनीतिक एजेंडा में खामी के बारे में हो, लेकिन सार्वजनिक रूप से ऐसे आरोप लगाना गलत है. गौरतलब है कि मिश्रा विश्वास के करीबी माने जाते हैं जिन्होंने हाल ही में पार्टी छोड़ने की धमकी दी थी। मिश्रा ने विश्वास का उस वक्त समर्थन किया था जब उनका पार्टी नेतृत्व से तकरार हुई थी.

मनीष सिसोदिया ने कहा…
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कपिल मिश्रा द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों पर जवाब देने की आवश्यकता नहीं है. सिसोदिया ने कहा, उनके आरोपों पर जवाब देने की जरूरत नहीं है. उनको खराब प्रदर्शन की वजह से हटाया गया है. उन्होंने कहा, आरोप बेतुका है और उसमें कोई तथ्य नहीं है.

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा….
दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगाए गए आरोपों पर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि आज का दिन दिल्ली के लिए काला दिन है. मनोज तिवारी ने कहा कि केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है उन्हें तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए. मिश्रा ने केजरीवाल की शुचिता का गुब्बारा फोड़ दिया है. मिश्रा ने आरोप लगाया, जैन ने मुझे बताया था कि उन्होंने केजरीवाल के रिश्तेदार का 50 करोड़ रुपये का भूमि सौदा कराया है. तिवारी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, अगर केजरीवाल इस्तीफा नहीं देते हैं तो उपराज्यपाल को आप नीत दिल्ली सरकार को बर्खास्त करने के लिए राष्ट्रपति से अनुशंसा करनी चाहिए. उन्होंने कहा, केजरीवाल में अगर थोड़ी भी नैतिकता बची है तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए क्योंकि उनके मंत्रिमंडल में मंत्री रहे कपिल मिश्रा ने उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं. मैं इस बारे में उपराज्यपाल से मिलने जा रहा हूं. तिवारी ने कहा कि मिश्रा भले ही थोड़ा देर से आप सरकार के भ्रष्टाचार का गवाह बने हैं लेकिन उनके निर्णय के लिए उन्हें धन्यवाद दिया जाना चाहिए.

दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख अजय माकन ने कहा…
दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख अजय माकन ने केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की और कहा कि पार्टी ने भ्रष्टाचार विरोधी मुद्दे को खो दिया है. केजरीवाल के खिलाफ मिश्रा के आरोपों को काफी गंभीर बताते हुए उन्होंने कहा कि सीबीआई और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को आरोपों का संज्ञान लेना चाहिए, उन्होंने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मिश्रा के आरोपों के परिप्रेक्ष्य में केजरीवाल को मुख्यमंत्री बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है. उन्हें पद छोड़ देना चाहिए. इस बीच युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास के बाहर प्रदर्शन किया और आरोपों की सीबीआई जांच की मांग की. संगठन ने मांग की कि जांच चलने तक केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. भारतीय युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अमरीश रंजन पांडेय ने एक बयान में कहा, लगता है कि पूरी दिल्ली सर्कस बन गई है. लोग मुख्यमंत्री द्वारा ठगे हुए महसूस कर रहे हैं. ये आरोप पूर्व मंत्री ने लगाए हैं इसलिए यह काफी गंभीर मुद्दा है.

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा…
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे की मांग करते हुए दावा किया कि आप प्रमुख को पद पर बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है क्योंकि उनका भ्रष्ट चेहरा पूरी तरह बेनकाब हो गया है. कांग्रेस नेता ने कहा कि उनकी पार्टी लंबे समय से कहती रही है कि केजरीवाल डकैत है जो केवल अपनी जेब भरने में रूचि रखते हैं.
सिंह ने कहा कि केजरीवाल पर और उनकी पार्टी के खिलाफ पिछले कई महीने से आरोपों की गंभीरता को देखते हुए केजरीवाल को काफी पहले इस्तीफा दे देना चाहिए था. उन्होंने कहा, लेकिन बेशर्म इंसान होने के कारण आम आदमी पार्टी के नेता अब भी पद नहीं छोड़ेंगे. हाल में पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा मारे गए सैनिक परमजीत सिंह के घर सांत्वना देने पहुंचे सिंह ने केजरीवाल के खिलाफ लगाए गए आरोपों की सीबीआई जांच और आप प्रमुख के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत कार्रवाई की मांग की.

AAP के निलंबित सांसद धर्मवीर गांधी ने कहा…
आम आदमी पार्टी के निलंबित सांसद धर्मवीर गांधी ने मांग की कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कैबिनेट सहयोगी कपिल मिश्रा द्वारा उन पर दो करोड़ रुपए की रिश्वत लेने के आरोप लगाने के बाद उन्हें (मुख्यमंत्री को) नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए. पटियाला से सांसद धर्मवीर ने कहा, केजरीवाल के पूर्व मंत्री द्वारा लगाया गया यह गंभीर आरोप है. उन्हें नैतिक आधार पर तुरंत पद छोड़ देना चाहिए. धर्मवीर गांधी को 2015 में कथित तौर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए निलंबित कर दिया गया था जिसके बाद वह अपना पंजाब पार्टी (एपीपी) में शामिल हो गए थे. उन्होंने कहा, केजरीवाल संत नहीं हैं. उन्हें पद छोड़ देना चाहिए और अपने खिलाफ स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच होने देना चाहिए. इस मुद्दे पर एपीपी के सुप्रीमो सुच्चा सिंह छोटेपुर ने भ्रष्टाचार के आरोपों के परिप्रेक्ष्य में केजरीवाल से तुरंत इस्तीफे की मांग की. उन्होंने कहा, उन्होंने (केजरीवाल) देश को काफी नुकसान पहुंचाया है. छोटेपुर ने कहा कि उन्होंने लोगों से धोखा किया है.

शिरोमणि अकाली दल ने कहा…
हाल के पंजाब विधानसभा चुनावों में सत्ता से बाहर हुए शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के इस्तीफे के साथ ही उन्हें तुरंत गिरफ्तार करने की भी मांग की है. शिअद के महासचिव बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा, केजरीवाल हमेशा कहते रहे हैं कि गलत करने वालों के खिलाफ वह कार्रवाई करेंगे. जब आप खुद ही कठघरे में हैं तो अब क्या करेंगे? उन्होंने कहा, लोग उम्मीद करते हैं कि आप तुरंत इस्तीफा दें न कि कपिल मिश्रा को दोषी ठहराने का प्रयास करें.

मध्य प्रदेश की ताजा खबरें- यहां क्लिक करें

About admin-star

Check Also

Video कांफ्रेंस: मुख्‍यमंत्रियों से बोले PM मोदी, ‘जान भी और जहान भी’ दोनों जरूरी। 

स्टार भास्कर डेस्क/शैलेष दुबे@ प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *