Breaking News
Home / देश / मध्य प्रदेश / जबलपुर / टीएल मीटिंग में परफॉर्मेंस की पड़ताल,शिक्षा विभाग तथा मछली पालन से असंतोषजनक:कलेक्टर।

टीएल मीटिंग में परफॉर्मेंस की पड़ताल,शिक्षा विभाग तथा मछली पालन से असंतोषजनक:कलेक्टर।

​शासन की अपेक्षाओं पर खरा उतरने के लिए गंभीर प्रयास करें –कलेक्टर

जबलपुर: कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने कहा कि सरकार की अपेक्षाओं पर खरा उतरने के लिए सभी अधिकारियों को गंभीर प्रयास करने होंगे। आम लोगों की बेहतरी के लिए संचालित समस्त योजनाओं का कारगर क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए सभी अधिकारी प्रतिबद्धतापूर्वक अपने कर्तव्यों को अंजाम दें।

श्री चौधरी आज यहां समय-सीमा बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने बैठक के दौरान विभिन्न विभाग प्रमुखों से राज्य स्तर पर जिले की ताजा रैंकिंग की बाबत् जानकारी ली। इस तारतम्य में विभागीय परफॉर्मेंस की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने विभाग प्रमुखों को विस्तृत दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने एनव्हीडीए और बिजली अधिकारियों को आगाह किया कि आने वाले चार माह उनके लिए काफी अहम् रहेंगे। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति के बारे में सम्बन्धित अधिकारियों को सजग रहने को कहा। व्यवस्थाएं दुरूस्त बनाने की दृष्टि से कलेक्टर ने कनिष्ठ अभियन्ता स्तर पर बैठक लेने के भी संकेत दिए।

अधिकारियों की परफॉर्मेंस की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी ने सीएम हैल्पलाइन के परिप्रेक्ष्य में लोक सेवा केन्द्र की चौथी रैंकिंग को लेकर प्रबंधक की सराहना की। ईई आरईएस से कहा गया कि वे प्रधानमंत्री आवास योजना में हासिल 10 वीं रैंक को और बेहतर बनाने की दिशा में प्रयास करें। उन्हें पानी रोकने के लिए निर्मित संरचनाओं पर प्रजेंटेशन भी तैयार करने को कहा गया। सीएमएचओ को मौजूदा 10 वीं रैंक बरकरार रखने के प्रति सजग रहने के लिए पाबंद किया गया। कलेक्टर ने बैठक में मौजूद नगर निगम के अधिकारी को निर्देशित किया कि दिव्यांगों की सुविधा की दृष्टि से राइट टाउन स्टेडियम और मानस भवन में रैम्प निर्माण कराया जाए। साथ ही उन्होंने सरकारी दफ्तरों को बाधारहित बनाने के लिए रैम्प बनवाने की पहल को जरूरी बताया।

जिन विभागों की परफॉर्मेंस को कलेक्टर ने असंतोषजनक निरूपित किया उनमें शिक्षा विभाग तथा मछली पालन शामिल थे। इस सिलसिले में जिला परियोजना समन्वयक और जिला शिक्षा अधिकारी से कैफियत तलब की गई। कलेक्टर ने साफ तौर पर कहा कि स्कूलों का समय पर खुलना और शिक्षकों की समय से स्कूलों में उपस्थिति हर हाल में सुनिश्चित करनी होगी। उन्होंने स्कूलों में निगरानी के चाक-चौबंद इंतजामों की जरूरत पर जोर देते हुए कैमरों की व्यवस्था के लिए पहल के निर्देश दिए। उद्योग विभाग तथा महिला एवं बाल विकास को क्रमश: दूसरी और आठवीं रैंकिंग मिलने को लेकर श्री चौधरी ने संतोष जताया। हालाकि मछली पालन विभाग की कार्यप्रणाली में सुधार की जरूरत बताई गई। सम्बन्धित अधिकारी को तालाबों में मत्स्य बीज डलवाने के लिए कदम उठाने को कहा गया। श्री चौधरी ने निर्देश दिए कि मध्यान्ह भोजन के निरीक्षण के लिए विशेष दल गठित किए जाएं। साथ ही उन्होंने विभागों के जिलाधिकारियों को भी निर्देशित किया कि वे फील्ड के अपने दौरों में जरूरी तौर पर मध्यान्ह भोजन और आंगनबाड़ियों में पोषण आहार से जुड़ी व्यवस्थाओं की पड़ताल करें। कलेक्टर ने ईई पीडब्ल्यूडी से योजना राशि के व्यय तथा सड़क निर्माण कार्यों की प्रगति का ब्यौरा तलब किया। धान खरीदी के लिए सभी जरूरी इंतजामों के सिलसिले में गंभीरता बरते जाने की भी हिदायत दी गई।

राशन के लिए आधार का समग्र आईडी से लिंक जरूरी

बैठक में बताया गया कि आधार का समग्र आईडी से लिंक कराया जाना अनिवार्य किया गया है। शहरी क्षेत्र में इस व्यवस्था को मार्च 2017 में लागू कर दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में दिसम्बर तक आधार लिंक कराना होगा अन्यथा राशन की पात्रता नहीं रहेगी। खाद्य नियंत्रक सी.एस. जादौन ने बताया कि परिवार के हर सदस्य का आधार समग्र आईडी से लिंक कराना होगा अन्यथा राशन नहीं मिल सकेगा।

बैठक के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी ने राजस्व वसूली तथा मोबाइल गिरदावरी की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में मौजूद राजस्व अधिकारियों को वसूली तेज करने के नर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गैरजरूरी तौर पर अधिक पेनल्टी लगाए जाने से परहेज किया जाना चाहिए ताकि लोग स्वयं राजस्व राशि जमा करने आगे आएं। श्री चौधरी ने बरगी क्षेत्र में अवैध शराब की रोकथाम के लिए तत्काल कदम उठाने के निर्देश दिए।

बैठक में कलेक्टर ने सीएम हैल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण में यह ध्यान रखे जाने की ताकीद की कि निराकरण संतुष्टिकारक हो। उन्होंने नगर निगम, ऊर्जा, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास, जल संसाधन, एनव्हीडीए सहित कुछ अन्य विभागों के अधिकारियों को हैल्पलाइन शिकायतों के निराकरण के प्रति अधिक तत्परता बरतने की हिदायत दी।

बैठक में अपर कलेक्टर आनंद कोपरिहा के अलावा अनुविभागीय अधिकारीगण एवं विभाग प्रमुख भी मौजूद थे।

About WFWJ

Check Also

2773 घरों में हुई मच्छरों के लार्वा की जांच।

जबलपुर@ कलेक्टर कर्मवीर शर्मा के निर्देशन में जिला मलेरिया अधिकारी की टीम के द्वारा दो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *