Saturday , January 23 2021
Home / देश / मध्य प्रदेश / दमोह / 10 से अधिक हिस्ट्रीशीटर अपराधियों के ऊपर, जिला बदर की कार्यवाही।

10 से अधिक हिस्ट्रीशीटर अपराधियों के ऊपर, जिला बदर की कार्यवाही।

दमोह | 22 नवम्बर 2018

जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जे विजय कुमार ने आपराधिक गतिविधियों पर तत्काल प्रभाव से नियंत्रण करने के उद्देश्य से पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल के प्रतिवेदन पर म.प्र.राज्य सुरक्षा अधिनियम के तहत 10 अपराधियों पर जिला बदर और एक अपराधी पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त किये गये पुलिस एवं सामान्य प्रेक्षकगणों के निर्देश पर जिले में विधानसभा निर्वाचन निर्विघ्न रूप से सम्पन्न कराने के उद्देश्य से लगातार जिला बदर और प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की जा रही है। निर्वाचन कार्रवाई प्रारंभ होने से अब तक 33 अपराधियों पर जिला बदर और 17 पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई है।

जिला मजिस्ट्रेट डॉ. कुमार ने साकिन गार्ड लाईन दमोह थाना कोतवाली निवासी कामता पिता मनमोहन तिवारी उम्र 56 वर्ष, पुराना थाना के पास महावीर वार्ड दमोह निवासी मनीष ऊर्फ चेंचे पिता रामचन्द ऊर्फ रामचरण चौरसिया उम्र 42 वर्ष, ग्राम हिण्डोरिया थाना हिण्डोरिया निवासी राजा ऊर्फ हबीब पिता अयूब खान उम्र 40 वर्ष, वार्ड क्रमांक 05, पथरिया थाना पथरिया निवासी वीरेन्द्र पिता भगवानदास लोधी उम्र 21 वर्ष, वार्ड क्रमांक 05 पथरिया थाना पथरिया निवासी दलू ऊर्फ दयाराम पिता बालकिशन काछी उम्र 30 वर्ष, ग्राम सेहरी थाना तेन्दूखेड़ा निवासी हल्ली ऊर्फ भारत सींग पिता बहादुर सींग लोधी उम्र 42 वर्ष, ग्राम मड़िया थाना नोहटा निवासी नीलेश पिता धनीराम यादव उम्र 34 वर्ष, ग्राम अभाना थाना नोहटा निवासी शेरू ऊर्फ जितेन्द्र पिता रामू ऊर्फ रामसिंह राजपूत उर्म 35 वर्ष, गाम रोड़ा पटना थाना हिण्डोरिया निवासी ग्यासी पिता रामनाथ तिवारी उम्र 40 साल तथा ग्राम बांदकपुर थाना हिण्डोरिया निवासी राजू ऊर्फ राजेन्द्र पिता जनक दुबे उम्र 45 वर्ष को जिले की भौगोलिक सीमा से आगामी एक वर्ष की कालावधि के लिये निष्कासित कर दिया है तथा आदेशित किया है कि आदेश प्राप्ति के 24 घण्टे के अन्दर दमोह जिले की सीमाओं से बाहर चले जाने के साथ अपने आचरण में सुधार करे। इनके विरूद्ध कई आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध होने पर यह जिला बदर की कार्यवाही की गई है।

जिला बदर के इस आदेश में कहा गया है आदेश का उल्लंघन करने पर अनावेदक के विरूद्ध म.प्र.राज्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी। जिला बदर की अवधि में केवल उसके विरूद्ध चल रहे न्यायालयीन प्रकरणों में पेशी दिनाँक को उपस्थिति हेतु छूट रहेगी, परन्तु इसके पूर्व अनावेदक को थाना प्रभारी को लिखित में सूचना देनी होगी तथा न्यायालय में पेशी होने के तुरन्त पश्चात वह इस आदेश का पालन सुनिश्चित करेगा।
इसी प्रकार जिला मजिस्ट्रेट डॉ.जे.विजय कुमार ने साकिन ग्राम रमगढ़ा हाल मगरा थाना पटेरा निवासी रख्खा ऊर्फ मस्तराम पिता तुलाराम कुर्मी उम्र 45 वर्ष को आगामी एक वर्ष की कालावधि तक के लिये दिये गये निर्देशों का पालन करने हेतु प्रतिबंधित किया है।
जारी प्रतिबंधात्मक आदेश में कहा गया है इस अवधि में प्रत्येक सोमवार को कार्यपालिक दण्डाधिकारी (तहसीलदार) पटेरा के न्यायालय में अपनी उपस्थिति दर्ज करायेगे। सोमवार को शासकीय अवकाश होने की स्थिति में अगले कार्य दिवस में उपस्थिति दर्ज करायेंगे तथा सामान्य नागरिक की भांति नेक चाल चलन बनाकर रखेंगे। इन निर्देशों का उल्लंघन करने पर अधिनियम की धारा 14 के तहत कार्यवाही की जायेगी। यह सभी आदेश 19 अक्टूबर 18 को जिला मजिस्ट्रेट के हस्ताक्षर एवं न्यायालय मुद्रा से जारी किये गये है।

(संवाददाता: अंकित बसेड़िया, दमोह म.प्र.)

मध्य प्रदेश की ताजा खबरें- यहां क्लिक करें

About admin-star

Check Also

Jabalpur: माढ़ोताल पुलिस और दामिनी जनकल्याण समिति ने “महिला सुरक्षा जागरूकता” के लिए निकाली रैली।

स्टार भास्कर डेस्क/जबलपुर@ महिलाओं को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने सामाजिक जागरूकता अभियान “सम्मान” हेतु माढ़ोताल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *