Tuesday , June 2 2020
Home / देश / मध्य प्रदेश / मंडला / मण्डला: 4 मई से आवश्यक गतिविधियों के लिए प्रशासन ने जारी की सशर्त अनुमति।

मण्डला: 4 मई से आवश्यक गतिविधियों के लिए प्रशासन ने जारी की सशर्त अनुमति।

स्टार भास्कर डेस्क/मण्डला@ जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने कोरोना संक्रमण के फैलाव को नियंत्रित रखने एवं बचाव की दृष्टि से संपूर्ण देश में 17 मई 2020 तक घोषित लॉकडाऊन के मद्देनजर गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार जिले के लिए आवश्यक गतिविधियों के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिये हैं। जारी आदेश के तहत् जीवनोपयोगी सुविधाओं को बहाल करने के लिए 4 मई 2020 से आगामी आदेश पर्यन्त कुछ क्रियाकलापों एवं गतिविधियों के संबंध में कुछ प्रतिबंधों के साथ अनुमति प्रदान की गई है।

प्रतिबंधित गतिविधियाँ

जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जारी आदेश के अंतर्गत जिले में साप्ताहिक हाट बाजार, पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए बस, टैक्सी तथा ऑटो रिक्शा, चिकित्सकीय एवं परिजनों की मृत्यु के कारण उत्पन्न आधार के अतिरिक्त अंतर्राज्यीय आवागमन, समस्त शैक्षणिक गतिविधियाँ, प्रशिक्षण एवं कोचिंग संस्थान, समस्त सत्कार संबंधी संस्थान अर्थात होटल, रिसॉर्ट, मॉटेल, धर्मशाला, बारात घर आदि, समस्त सिनेमा हॉल, मल्टीप्लोक्स, मॉल, शॉपिंग कॉम्पलेक्स, जिम्नेजियम, स्पोर्टस कॉम्पलेक्स, स्वीमिंगपूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर, बार, ऑडिटोरियम, असेमली हॉल और समरूप स्थान, समस्त सार्वजनिक, राजनीतिक, क्रीडा, मनोरंजक, सांस्कृतिक, शैक्षिक, धार्मिक समारोह या अन्य समारोह प्रतिबंधित रहेंगे। इसी प्रकार समस्त धर्म स्थल, पूजा स्थल जनता के लिए बंद रहेंगे। हर प्रकार की धार्मिक मण्डली, समूह संयोजन और जमाव की सख्त मनाही है। कहीं भी 5 या उससे अधिक लोगों का जमाव जुड़ाव या समूह एकत्र नहीं होगा। अंत्येष्टि क्रिया में 20 से अधिक लोग तथा विवाह कार्य के लिए दोनों पक्षों के मिलाकर कुल 50 से अधिक लोगों की उपस्थिति प्रतिबंधित रहेगी। जिला मुख्यालय के बैगा बैगी चौक से लेकर उदय चौक, बस स्टेण्ड चौराहे से लेकर बड़चौक, चिलमन चौक से लेकर वाटल फिल्टर प्लांट तक सभी चौराहों और मार्ग पर सब्जी, फल के स्थायी ठेले नहीं लगेंगे बल्कि यहां से बिना रूके अपने-अपने आवंटित वार्डों में चले जायेंगे। अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक पूर्णतः लॉकडाऊन रहेगा। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति को बाहर निकलने की सख्त मनाही रहेगी।

अनुमति प्राप्त गतिविधियाँ

4 मई से आगामी आदेश पर्यन्त तक के लिए प्रतिदिन प्रातः 7 बजे से दोपहर 2 बजे तक समस्त व्यवसायिक प्रतिष्ठान (ब्यूटी पार्लर, हेयर कटिंग सेलून, चाय पान, गुटखा एवं तम्बाखू उत्पाद, सब्जी की फुटकर दुकानें एवं आऊटलेट को छोड़कर) खुले रहेंगे। इसी प्रकार प्रतिदिन प्रातः 7 बजे से शाम 7 बजे तक सभी फुटकर फल एवं सब्जी विक्रेता ठेले पर केवल फेरी लगाकर वर्तमान में जारी व्यवस्था अनुसार विक्रय कर सकेंगे, किराना एवं दूध विक्रेताओं द्वारा घर पहुंच सेवा जारी रहेगी, समस्त शासकीय एवं अशासकीय निर्माण कार्य, योजनाऐं एवं परियोजनाओं की गतिविधियाँ, समस्त गैस एजेसिंयां खुली रहेगी तथा उपभोक्ताओं को पूर्व की भांति प्राथमिकता के साथ घर पहुंच सेवा जारी रहेगी, केवल दराई एवं पिसाई का कार्य करने वाली आटा चक्की, राईस मिल तथा दाल मिल खुली रहेगी, सभी कृषि उपज मंडियाँ, ग्रामीण क्षेत्र की समस्त औद्योगिक तथा निर्माण इकाईयाँ एवं ग्रामीण क्षेत्र की रोजगारमूलक समस्त गतिविधियाँ खुली रहेगी।

प्रतिबंध से मुक्त अत्यावश्यक गतिविधियाँ

समस्त चिकित्सालय, क्लीनिक, नर्सिंगहोम, टेली मेडिसिन सेंटर, डिस्पेंसरी, पैथोलॉजी, समस्त प्रकार की दवा एवं वैक्सीन प्रदाय की दुकानें, जन औषधि केन्द्र, मेडीकल कलेक्शन सेंटर, पशु चिकित्सालय या क्लीनिक, चिकित्सा आधार संरचनाओं का निर्माण, चिकित्सक, चिकित्सा वैज्ञानिक, नर्सेस, पैरामेडीकल स्टॉफ, लैब टैक्निशियन, अन्य अस्पताल समर्थित सेवादाता आदि जिसमें पशु चिकित्सा से संबंधित अमला भी शामिल है, का अंतरजिला एवं अंतर्राज्यीय आवागमन प्रतिबंध से मुक्त रहेगा। इसी प्रकार समस्त पेट्रोल, डीजल पंप, गैस, पेट्रोल, केरोसीन का परिवहन, भंडारण एवं वितरण प्रतिबंध से मुक्त रहेगा। समस्त डाक सेवाऐं, दूरसंचार इंटरनेट, कोरियर सेवाऐं, माल परिवहन की सेवाऐं प्रतिबंध से मुक्त रहेगी। ट्रकों एवं गुड्स करियर वाहन में 2 ड्राईवर एवं 1 क्लीनर अथवा हेल्पर ही अनुज्ञेय होगा। ये वाहन किसी भी प्रकार की सवारियां नहीं ढ़ोएगे। माल लाने-ले जाने के लिए खाली वाहनों को निर्धारित समयावधि में जिले एवं नगरों की सीमाओं में प्रवेश करने दिया जायेगा। ट्रक मरम्मत एवं इनके स्पेयर पार्टस की दुकानें एवं राजमार्ग के किनारे के ढ़ाबे प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कार्यालय तथा केबल नेटवर्क सेवाऐं प्रतिबंध से मुक्त रहेगी।

इन प्रतिबंधों और नियमों का पालन करना होगा अनिवार्य

जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने सभी सार्वजनिक स्थानों पर प्रत्येक व्यक्ति को अपना चेहरा मॉस्क अथवा गमछे से अनिवार्य रूप से ढ़कने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने सभी दुकानदारों को हिदायत दी है कि जो ग्राहक बिना मॉस्क या गमछा लगाये हुए दुकान पर आता है तो ऐसे व्यक्ति को सामान का विक्रय न करें। सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर 1 हजार रूपये का अर्थदण्ड एवं 6 माह की सजा आरोपित की जा सकेगी। सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटखा, तम्बाखू एवं उसके उत्पाद का उपयोग अनुज्ञेय नहीं होगा। समस्त प्रतिष्ठानों के मालिक एवं संचालकों को स्वयं एवं अपने ग्राहकों के द्वारा समुचित दूरी बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना अनिवार्य होगा। समस्त कार्यस्थलों को नियमित रूप से सेनिटाईजेशन करना अनिवार्य होगा। बीमार एवं 65 वर्ष के उम्र की व्यक्ति, गर्भवती महिलाऐं अपने घरों से काम संपादित कर सकेंगे। केवल अपातकालीन सेवाओं के लिए निजी वाहन जिसमें मेडीकल और पशु केयर भी शामिल है, की अनुमति दी जा सकेगी किन्तु ऐसे अनुमति प्राप्त 4 पहिया वाहनों में ड्राईवर के अलावा पीछे के सीट पर मात्र एक ही यात्री यात्रा कर सकेगा। 2 पहिया वाहन की दशा में केवल वाहन चालक को ही अनुमति होगी। इसके अतिरिक्त कोई वाहन बिना अनुमति के नहीं चल सकेगा। कलेक्टर ने समस्त व्यक्तियों को आरोग्य सेतू ऐप को अपने मोबाईल फोन में उपयोग अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि जिन व्यक्तियों को कोविड-19 के कारण होम क्वारेंटाईन किया गया है वे निर्धारित समयावधि से पूर्व घर से बाहर नहीं निकलेंगे अन्यथा उनके विरूद्ध भा.द.सं. 1860 की धारा 188 एवं डिजास्टर मैनेजमेंट ऐक्ट 2005 की विभिन्न धाराओं में कार्यवाही की जायेगी।
जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने आदेश में कहा है कि समस्त दुकानदारों, आऊटलेट संचालकों तथा फुटकर विक्रेताओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न केवल स्वयं को करना होगा बल्कि उनके ग्राहक भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन उनकी दुकान, आऊटलेट, उपक्रम के समक्ष करें यह सुनिश्चित करना होगा साथ ही समस्त दुकानदार एवं ग्राहक मॉस्क अथवा गमछे का उपयोग कर अपने मुँह एवं नाक को अनिवार्य रूप से ढ़केंगे। कलेक्टर ने जारी आदेश एवं भारत सरकार तथा मध्यप्रदेश शासन द्वारा समय-समय पर जारी लॉकडाऊन के नियमों तथा निर्देशों का सख्ती से पालन करने की हिदायत समस्त छूट प्राप्तकर्ताओं को दी है। उन्होंने कहा है कि उल्लंघन की दशा में विरूद्ध भा.द.सं. 1860 की धारा 188 सहित अन्य धाराओं एवं डिजास्टर मैनेजमेंट ऐक्ट 2005 की धारा 51 से 60 के प्रावधानों के तहत् संबंधित के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी।

ये भी पढ़िये

कोरोना वायरस के कहर के चलते जबलपुर – मंडला नेशनल हाईवे में टिकरिया चैकिंग प्वाइंट के द्वारा लगातार जारी हैं वाहनों की चैकिंग।

स्टार भास्कर डेस्क/नारायणगंज – कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ने के चलते जगह जगह चैकिंग प्वाइंट बनाये गये है। जबलपुर – मंडला नेशनल हाईवे में टिकरिया चैकिंग प्वाइंट के द्वारा लगातार आने -जाने वाले वाहनों की चैकिंग की जा रही है। लोग इस वायरस से जुड़े कई तरह के सवाल पूछ रहे हैं। जिनमें से एक सवाल ये भी है कि बाहर से आ रहे वाहनों के कारण इस वायरस के संक्रमण का ख़तरा  कितना बढ रहा हैं। जिसके चलते पुलिस प्रशासन सख्ती के साथ वाहनों की चैकिंग में रात-दिन से लगा है। पुलिस प्रशासन द्वारा बताया गया कि जिन वाहनों को आवागमन की परमिशन प्राप्त है उन्हें जांच पड़ताल किए जाने के बाद ही आने जाने की परमिशन तथा हिदायत दी जा रही है। दुसरे शहरों से आ रही सब्जी , दूध , मालवाहक वाहनों की चैकिंग में प्रशासन सख्ती के साथ अपने कार्य मे लगातार लगा हुआ है।

रिपोर्ट@ सूरज सोनी,नारायणगंज(मण्डला)

मध्य प्रदेश की ताजा खबरें- यहां क्लिक करें

About admin-star

Check Also

गर्मी में पशु-पक्षियों के लिए भी करें दाना-पानी की व्यवस्था

स्टर भास्कर डेस्क@ गर्मी में पानी को अमृत के समान माना जाता है, मनुष्य को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *