Wednesday , September 23 2020
Home / राजनीति / ढाई दिन के मुख्यमंत्री साबित हुए येदियुरप्पा।

ढाई दिन के मुख्यमंत्री साबित हुए येदियुरप्पा।

विधानसभा चुनाव | 2018

तमाम सियासी दांवपेच के बावजूद येदियुरप्पा ने विश्वासमत पर वोटिंग से पहले इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया। अपने भाषण में येदियुरप्पा ने पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया और कहा, शायद पहली बार किसी पीएम ने सीएम कैंडिडेट तय किया। भाषण के तुरंत बाद येदियुरप्पा राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपने राजभवन चले गए। 15 मई को काउंटिंग और रिजल्ट के बाद से ही कर्नाटक की सियासी तपिश ने देश का माहौल गरमा दिया था। येदियुरप्पा के इस्तीफा देने के बाद अब कांग्रेस-जेडीएस के पोस्ट पोल अलायंस के लिए रास्ता साफ हो गया है।

इस्तीफे की घोषणा से पहले येदियुरप्पा ने कहा कि जनता ने हमें 104 सीटें दीं और यह जनादेश कांग्रेस और जेडीएस के लिए नहीं था। उन्होंने कहा, ‘सोचा था कि मैं राज्य के किसानों के लिएकाम करूंगा। बीजेपी सरकार ने किसानों की ऋणमाफी का फैसला किया है। पूरे देश में लोग कांग्रेस से और कर्नाटक में सिद्दारमैया से जनता नाराज है। पिछले पांच साल में राज्य में कोई बड़ा बदलाव और विकास कार्य नहीं हुआ है।’

उल्लेखनीय है की कर्नाटक की 224 सदस्यीय विधानसभा में 222 सीटों (2 सीटों पर बाद में चुनाव) पर चुनाव हुए थे। इसमें भी जेडीएस नेता कुमारस्वामी 2 सीटों पर जीते थे। इस हिसाब से बहुमत 221 सीटों के लिहाज से 111 विधायकों के समर्थन पर आता। बीजेपी के पास 104 विधायक थे जबकि पोस्ट पोल अलायंस का दावा कर रही कांग्रेस-जेडीएस अन्य विधायकों को मिलाकर 118 विधायकों के समर्थन का दावा कर रही थी।

मध्य प्रदेश की ताजा खबरें- यहां क्लिक करें

About admin-star

Check Also

“आओ मिलकर हाथ बढ़ाएं-मां नर्मदा को दूषित होने से बचाएं, करें पर्यावरण को सुरक्षित -जीवन में खुशियां फैलाएं”

स्टार भास्कर डेस्क/जबलपुर@ संस्कारधानी के पावन तट मां नर्मदा मैया के आंचल को स्वच्छ और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *