Saturday , July 4 2020
Home / देश / मध्य प्रदेश / दमोह / केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने दमोह भेंजी पीपीई किट।

केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने दमोह भेंजी पीपीई किट।

भाजपा पदाधिकारियों ने जिला चिकित्सालय व कोतवाली मे किया वितरण

स्टार भास्कर डेस्क/दमोह@ दमोह के सांसद व भारत सरकार के केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल को जैसे ही जानकारी प्राप्त हुई कि हमारे दमोह जिले मे कोरोना महामारी की लड़ाई मे लगे स्वास्थ्य कर्मी और पुलिस कर्मियों के लिए पीपीई किट नही है। तो उन्होंने शीघ्र ही पीपीई किट की व्यवस्था कर दमोह भेंजी। जिन्हें भाजपा पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने जिला चिकित्सालय दमोह मे सिविल सर्जन ममता तिमोरी,कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डाक्टर प्रहलाद पटेल व दमोह कोतवाली मे टीआई एच.आर.पांडेय को पीपीई किट सौपी।


इस दौरान दमोह सांसद प्रतिनिधि डाक्टर आलोक गोस्वामी ने जानकारी देते हुए बताया है कि पीपीई किट यानी पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट्स। नाम से ही स्पष्ट है कि ऐसे किट है जिससे संक्रमण से खुद को बचाने में मदद मिले। कोरोना वायरस चूंकि संक्रामक बीमारी है इसलिए इससे बचने के लिए लोग मास्क पहन रहे हैं, बार-बार हाथ साफ कर रहे हैं, लोगों से दूरी बनाकर बात कर रहे हैं। आम लोगों तो मास्क और दास्ताने का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन कोरोना मरीजों के इलाज में लगे डॉक्टर, नर्स, कंपाउंडर और मेडिकल स्टाफ को सिर से पांव तक वायरस संक्रमण से बचाव के लिए कई तरह की चीजें पहननी होती हैं और ये सारी चीजें पीपीई किट्स मे हैं।


अलग-अलग बीमारियों के लिए अलग तरह के पीपीई किट्स हो सकते हैं लेकिन आम तौर पर मास्क, ग्लोव्स, गाउन, एप्रन, फेस प्रोटेक्टर, फेस शील्ड, स्पेशल हेलमेट, रेस्पिरेटर्स, आई प्रोटेक्टर, गोगल्स, हेड कवर, शू कवर, रबर बूट्स इसमें गिने जा सकते हैं। इन सारी चीजों का मकसद एक ही है- मरीज से वायरस इलाज कर रहे लोगों में ना फैल जाए।


भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष गोपाल पटेल ने बताया कि पीपीई किट में जितने भी तरह के सामान आते हैं, सबके इस्तेमाल करने के नियम और तौर-तरीके हैं। हर सामान को पहनने का सही तरीका है। ऐसा नहीं हो तो पहनने के बाद भी संक्रमण का खतरा बना रहता है। डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ को इस्तेमाल से पहने ये देखना होता है कि किस तरह के पीपीई किट की जरूरत है। फिर उसे कैसे सही तरीके से पहनना है, एडजस्ट करना है, ये भी देखना होता है। इस्तेमाल के बाद पीपीई किट को सही तरह से कचरे में फेंकना ताकि उससे आगे किसी को संक्रमण ना हो, इसका बहुत ज्यादा ध्यान रखना होता है।


भाजयुमो आयाम प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजक मनीष सोनी ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के कुशल मार्गदर्शन मे भाजपा कार्यकर्ताओं के द्वारा कोराना महामारी के समय विभिन्न क्षेत्रों में लगातार सक्रिय रूप से काम किया जा रहा है।केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के नेतृत्व में जिस प्रकार दमोह जिले मे जो तैयारी की गई है वह काबिले तारीफ है। उन्होंने बताया कि हमारे स्वास्थ्य कर्मियों और पुलिस कर्मियों के लिए पीपीई किट की आवश्यकता थी। जो केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने दमोह भेजकर पूरी की है।

इस दौरान प्रमुख रूप से आलोक गोस्वामी,गोपाल पटेल,मनीष सोनी,अनुपम सोनी,संजय यादव, मोन्टी रैकवार,चंदू उपाध्याय,प्रीतम चौकसे,मनीष सोनी,शशांक लोधी,माणिकचंद्र सचदेवा,मुन्ना सोनी,रिंकू सोनी,राहुल पाठक,गोपाल सोनी,अनुप सोनी,सूरज सोनी सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं की मौजूदगी रही।

(दमोह से अंकित बसेडिया की रिपोर्ट)

मध्य प्रदेश की ताजा खबरें- यहां क्लिक करें

About admin-star

Check Also

जिले में टूरिज्म को बढ़ावा देने कार्ययोजना बनाएं: हर्षिका सिंह।

स्टार भास्कर डेस्क/मण्डला@ जिला पर्यटन संवर्धन परिषद की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह निर्देशित किया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *